टीएस सिंह देव बोले- CM कौन रहेगा, यह पार्टी तय करेगी

baba

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के ढाई साल पूरे होने के बाद से पावर शेयरिंग को लेकर शुरू हुआ विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. हालांकि विवाद के इतर कांग्रेस नेता राज्य में मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि पार्टी ने कभी ऐसा नहीं कहा कि ढाई साल का कोई फॉर्मूला है. मुख्यमंत्री कौन रहेगा या नहीं रहेगा यह पार्टी तय करेगी.

क्या आप मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी उठाने के लिए तैयार हैं, के सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा, 'पार्टी ने जो भी जिम्मेदारी दी है उसे मैंने हमेशा पूरा किया है. 1 रुपये देकर पार्टी का सदस्य बना था तब से लेकर अब तक 40 साल से पार्टी ने जहां-जहां भेजा वहां-वहां मैं गया हूं.' टीएस सिंह देव ने कल राहुल गांधी से मुलाकात की थी.

ढाई साल के फॉर्मूले पर जारी विवाद पर टीएस सिंह देव ने कहा कि पार्टी ने कभी नहीं कहा कि ढाई साल का कोई फॉर्मूला है. मीडिया में यह बात चली और उसके बाद से ही अटकलें चल रही हैं. उन्होंने कहा कि यह सब पार्टी आलाकमान तय करती है. पार्टी आलाकमान जो तय करती है हम लोग पार्टी के सिपाही हैं और उसको फॉलो करते हैं.

राज्य में भूपेश बघेल सरकार पर बनी अनिश्चितता पर टीएस सिंह देव ने कहा कि भूपेश बघेल ही मुख्यमंत्री हैं और हमारी सरकार 5 साल चलेगी. साथ ही मुख्यमंत्री कौन रहेगा या नहीं रहेगा. यह पार्टी तय करेगी. साथ ही उन्होंने साफ किया कांग्रेस ने कभी ऐसा नहीं कहा कि ढाई साल का कोई फॉर्मूला तय किया गया है.

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के ढाई साल पूरे होने के बाद से पावर शेयरिंग को लेकर उठे विवाद को खत्म करने को पार्टी हाईकमान सक्रिय हो गया और बुधवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल तथा मंत्री टीएस सिंह देव को दिल्ली तलब किया गया था.कांग्रेस नेता राहुल गांधी से मुलाकात कर रायपुर लौटे सीएम भूपेश बघेल ने कल कहा था कि जब आलाकमान कहेगा, सीएम पद छोड़ दूंगा.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा था, 'सोनिया-राहुल ने मुझ जैसे किसान को मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी सौंपी है. जब तक उनका आदेश है तब तक मैं इस पद पर हूं, जब वो कहेंगे हट जाऊंगा. यह जो ढाई-ढाई साल का राग अलाप रहे हैं वो राजनीतिक अस्थिरता लाने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन वह कभी सफल नहीं होंगे.'

माना जा रहा है कि राज्य में बघेल सरकार के 17 जून को ढाई साल पूरे होने के बाद से ही पावर-शेयरिंग के फॉर्मूले को लेकर भूपेश बघेल और टीएस सिंह देव के बीच विवाद जारी है. वजह यह मानी जा रही है कि कांग्रेस सरकार गठन के दौरान पहले ढाई साल भूपेश बघेल सीएम रहेंगे और उसके बाद टीएस सिंह देव सत्ता संभालेंगे, का फॉर्मूला तय किया गया था. हालांकि, कांग्रेस की ओर से कभी भी आधिकारिक तौर पर इस तरह के फॉर्मूले पर कुछ नहीं कहा गया

Share this story