अब रिटायरमेंट पर मिलेंगे ज्यादा पैसे...बैंकर्स के लिए NPS को लेकर बदला नियम

NPS 2021
कर्मचारियों के लिए NPS कंट्रीब्यूशन में 40 फीसदी की बढ़ोतरी का फैसला

बैंकिंग कर्मचारियों के लिए आज वित्त मंत्रालय ने न्यू पेंशन सिस्टम यानी NPS कंट्रीब्यूशन में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाने का ऐलान किया है. डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज (DFS) के सेक्रेटरी देवाशीष पांडा ने कहा कि सरकारी बैंकों ने अपने कर्मचारियों के लिए NPS कंट्रीब्यूशन में 40 फीसदी की बढ़ोतरी का फैसला किया है.

वर्तमान में सरकारी बैंकों में काम करने वाले कर्मचारियों के पेंशन फंड (NPS) में बैंकों का योगदान 10 फीसदी होता है. अब इसे 40 फीसदी बढ़ाकर 14 फीसदी कर दिया गया है, हालांकि एंप्लॉयी की तरफ से मिनिमम कंट्रीब्यूशन को 10 फीसदी पर निश्चित रखा गया है. इसका कैलकुलेशन बेसिक पे और महंगाई भत्ता के आधार पर होता है. महंगाई भत्ता और बेसिक पे को जोड़कर इसकी गणना की जाती है. इस घोषणा के साथ ही सरकारी बैंकों के कर्मचारियों के लिए NPS का नियम केंद्रीय कर्मचारियों की तरह हो गया है.

नेशनल पेंशन सिस्टम यानी NPS के तहत केंद्रीय कर्मचारियों के लिए सरकार की तरफ से योगदान बेसिक और महंगाई भत्ता का 14 फीसदी और एंप्लॉयी का मिनिमम योगदान 10 फीसदी रखा गया है. अब इसका फायदा बैंकिंग कर्मचारियों को भी मिलेगा. इस नियम के लागू हो जाने के कारण बैंकिंग कर्मचारियों का रिटायरमेंट फंड ज्यादा होगा.

इसके अलावा वित्त मंत्रालय ने बैंकिंग कर्मचारियों की मौत के बाद फैमिली पेंशन को लेकर भी नियम में बदलाव किया है. अगर किसी बैंक कर्मचारी की मौत हो जाती है तो उसके परिवार को लास्ट सैलरी का 30 फीसदी पेंशन के रूप में मिलेगी. पहले ऐसे मामलों में फैमिली पेंशन 9284 रुपए होती थी.

Share this story