किसी परिचित की पुलिस की वर्दी थी... पत्नी ने खोल डाली फर्जी दरोगा की पोल

cgsandesh
पुलिस महकमे में भी ऐसे शख्स की करतूतों से हड़कंप मचना लाजमी है

पुलिस की वर्दी धारण करना हर युवा का सपना होता है। यह वर्दी कड़ी मेहनत और कई इम्तिहानों से गुजरने के बाद जवानों को मिलती है, लेकिन जब कोई शख्स धोखाधड़ी करने के बाद अपने कंधों पर पीतल के 2 स्टार लगी वर्दी पहनकर इधर-उधर घूम कर रौब जमाने लगे तो जाहिर है लोगों में डर का माहौल जरूर पैदा हो जाएगा। वहीं पुलिस महकमे में भी ऐसे शख्स की करतूतों से हड़कंप मचना लाजमी है। जी हां रामपुर में एक ऐसा शख्स पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया है, जो वर्दी पहन कर अपनी पत्नी के साथ ही लोगों पर रोब गांठा करता था, लेकिन अब वह अपनी कारगुजारी के चलते पुलिस उसे हिरासत मे लेने की तैयारी शुरू कर चुकी है। हालांकि वह अभी पुलिस की पकड़ से दूर है।

जिले के टांडा थाना क्षेत्र का रहने वाले वीर सिंह का एक रिश्तेदार गैर जनपद में पुलिस की नौकरी करता है। घर में टंगी 2 स्टार लगी इस वर्दी को देखकर उसके मन में भी दरोगा बनने की चाहत दौड़ने लगी। हालांकि उसने इसके लिए गलत रास्ता चुना और इस वर्दी को धारण करने के बाद वह जहां पत्नी अनुपम भारती के साथ मारपीट किया करता था तो वही गांव के अन्य लोगों सहित आसपास के इलाके में रहने वाले लोगों पर अपनी वर्दी की धोंस जमाने लगा। जिसका परिणाम यह हुआ की पत्नी ने सारे मामले की शिकायत पुलिस से कर  डाली। फर्जी दरोगा होने की जानकारी सामने आने पर पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया और जिसके बाद आरोपी के खिलाफ ताना-बाना बुनकर उसे कानूनी गिरफ्त में लेने की तैयारी शुरू हो चुकी है।

वहीं इस मामले पर फर्जी दरोगा की पत्नी अनुपम भारती ने बताया सन 2014 में मेरी इनसे शादी हुई थी, शुरू में सब कुछ सही चला शादी के एक साल बाद उन्होंने मुझे टॉर्चर करना चालू कर दिया। मेरे पति के घर वाले सास और मेरी ननंद मेरे देवर सभी ने मुझे टॉर्चर करना शुरू कर दिया उनके घर में किसी परिचित की पुलिस की वर्दी थी, जिसे पहन कर उन्होंने रोब जमाना शुरू कर दिया। उन्होंने मुझसे मेरा आधार कार्ड मांगा मैंने उनको अपना आधार कार्ड दे दिया, वे जिस स्कूल में पढ़ाते थे वहां एक स्टूडेंट आती थी। इन्होंने उसका फोटो मेरा आधार कार्ड पर लगा कर फर्ज़ी आधार कार्ड बना लिया और उसको जगह-जगह घुमाते थे और मोबाइल बदल बदल के उस से बात करते थे।

उन्होंने मुझसे यह तक कह दिया या तो तुम छोड़कर चली जाओ या मुझे तलाक दे दो नहीं तो मैं तुझे जान से मार दूंगा। फ़र्ज़ी दरोगा ने कहा कि मेरे पास तो सरकारी नौकरी है, मैं जितनी चाहे शादी करूं तू मेरा कुछ नहीं कर सकती। अनुपम ने कहा उनके पति दरोगा की वर्दी पहनकर निकलते थे और रास्ते में लोगों को डांटते फटकार ते थे, यह उस विनीता नाम की लड़की घुमाते हैं। कहीं भी जाते हैं रूम किराए पर लेते हैं 2 दिन उसके साथ रहते है और उसके बाद फिर आकर उसके घर छोड़ देते हैं।

वहीं इस मामले पर पुलिस अधीक्षक अंकित मित्तल ने बताया कि थाना टांडा पर एक महिला ने सूचना दी। उसके पति फर्जी रूप से पुलिस की वर्दी पहन कर बाहर घूमते हैं। उसके नाम से फर्जी फोटो लगाकर उसका आधार कार्ड बनाया। इस सूचना को वेरीफाई किया गया प्रथम दृष्टया सूचना सही पाई गई। इस पर महिला की तहरीर के आधार पर पति के विरुद्ध थाना टांडा पर मुकदमा पंजीकृत किया गया है। जांच करने पर पता चला कि उस व्यक्ति के कोई परिचित पुलिस विभाग में है, जिस की वर्दी उसने पहनी थी, क्योंकि ये अपराध है। इस संबंध में उक्त व्यक्ति के विरुद्ध भी संबंधित जनपद को कार्रवाई के लिए लिखा गया है।

Share this story