लगातार बढ़ती जा रही अफगानिस्तान छोड़कर भागते लोगों की संख्या..इन 12 देशों के लिए बना संकट

taliban afganistan 2021
 अफगानी लोग बड़ी संख्या में शरण लेने पहुंच रहे हैं.

गोलियां बरसाते तालिबानी लड़ाके और खतरे के बावजूद परिवार को लेकर एयरपोर्ट की ओर भागते अफगानी लोग, छोटी-छोटी बच्चियों को कंटीले तारों के ऊपर से अमेरिकी सैनिकों की ओर उछालती मांओं की तस्वीरें और विमानों के पहियों और विंग्स पर लटककर अफगानिस्तान से बाहर निकल जाने की जानलेवा कोशिश करते लोगों की भीड़ पूरी दुनिया ने देखी. ये हालात अभी भी जस की तस है अफगानिस्तान छोड़कर भाग रहे शरणार्थियों की तादाद अभी लगातार बढ़ती ही जा रही है. अमेरिका के अनुसार 15 अगस्त के बाद से अब तक विमानों के जरिए वह 80 हजार से अधिक लोगों को निकाल चुका है. इसी तरह ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, यूक्रेन समेत तमाम देश अपने-अपने लोगों और अफगान नागरिकों को वहां से निकाल रहे हैं. भारत ने भी वहां फंसे भारतीयों और अफगान सिख और हिंदुओं को निकालने के लिए बड़ा रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया है.

हर रोज दो विमान दोहा के लिए निकल रहे हैं और दोहा होकर भारतीयों को अफगानिस्तान से निकालकर स्वदेश लाया जा रहा है. काबुल के तालिबान के हाथ में आते ही ताजिकिस्तान, ईरान, उजबेकिस्तान की सीमाओं पर भीड़ लगने लगी. इतना ही नहीं इन पड़ोसी देशों से होकर तुर्की समेत कई और देशों में जाने वाले अफगान शरणार्थियों की तादाद भी बढ़ने लगी. इस बीच, तेजी से आते हुए अफगान शरणार्थियों को रोकने के लिए तुर्की के दीवार खड़ी करने के कदम की पूरी दुनिया में आलोचना हुई तालिबानी क्रूरता से बचने की कोशिश कर रहे इन अफगानी शरणार्थियों की मदद के लिए दुनिया के देश आगे आ रहे हैं. ईरान में अफगान सीमा से लगते तीन प्रांतों में इमरजेंसी टेंट लगाए गए हैं. शरणार्थियों को इमरजेंसी मदद दी जा रही है. ईरान को उम्मीद है कि अफगानिस्तान में फिर जब हालात सुधरेंगे तो इन्हें वापस भेजा जाएगा. ताजिकिस्तान बॉर्डर में एक अनुमान के मुताबिक ताजा संकट शुरू होने के बाद 1 लाख से अधिक लोग शरण लेने पहुंच सकते हैं

कहां कितने अफगान शरणार्थी?

इस ताजा संकट से पहले ही अफगान शरणार्थियों को लेकर यूनाइटेड नेशंस ने अलार्मिंग रिपोर्ट दी थी. UNHCR के 2020 के आंकड़ों को देखें तो सबसे ज्यादा अफगान शरणार्थियों का संकट पाकिस्तान को प्रभावित कर रहा है. पाकिस्तान में 14 लाख 50 हजार से अधिक अफगान लोगों ने शरण ले रखी है. इसके बाद ईरान में 8 लाख के करीब अफगान शरणार्थी पहुंचे हैं. खासकर ईरान सीमा से सटे शिया हाजरा समुदाय के लोगों मे हिंसा से तंग आकर ईरान सीमा की ओर रुख किया है. देखिए कहां कितने अफगान शरणार्थी?

-पाकिस्तान- 14 लाख 50 हजार
-ईरान- 7 लाख 80 हजार
-जर्मनी- 1 लाख 81 हजार
-तुर्की- 1 लाख 29 हजार
-ऑस्ट्रिया- 46 हजार
-फ्रांस- 45 हजार
-ग्रीस- 41 हजार
-स्वीडन- 31 हजार
-स्विट्जरलैंड- 15 हजार
-भारत- 15 हजार
-इटली- 13 हजार
-ब्रिटेन- 12 हजार शरणार्

Share this story