प्रेमी ने पैसों की खातिर बेरहमी से प्रेमिका को उतारा मौत के घाट,ऐसे हुआ खुलासा

अमेरिका के कैलिफोर्निया में खुद की सुरक्षा के लिए लगवाए गए कैमरों में महिला की मौत कैद हो गई. प्रेमी ने पैसों की खातिर बेरहमी से उसे मौत के घाट उतार दिया. 2016 में हुई इस वारदात को लेकर हत्यारे को भले ही अदालत ने सजा दे दी है, लेकिन महिला के परिवारीजन आज भी इस बात को लेकर दुखी हैं, कि​ सिस्टम उसे बचाने में विफल रहा. 


कैलिफोर्निया के हंटिंग्टन बीच पर वर्ष 2016 में बेहद ही दर्दनाक वारदात को अंजाम दिया गया. यहां की रहने वाली 50 साल की मैरीलू की उनके प्रेमी जेसन बेचर ने बेरहमी से पीट-पीटकर और गला दबाकर हत्या कर दी थी.  इस मामले में कोर्ट में चली सुनवाई के दौरान आरोपी प्रेमी बेचर को सजा हुई, लेकिन मैरीलू का परिवार आज भी दुखी है. 

मैरीलू और बेचर के बीच गहरा प्रेम संबंध था, लेकिन पांच साल के रिश्तों में ये प्रेम संबंध बुरी तरह बिगड़ चुके थे. उनके बीच पैसों को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा था. 28 अगस्त 2016 को मैरीलू ने पुलिस को फोन कर बताया था कि बेचर ने उस पर हमला किया है. 


इसके बाद बेचर ने मैरीलू से क्षमा मांगते हुए कहा कि वह उसके साथ अपना बुढ़ापा व्यतीत करना चाहता है. जीवन भर उसकी देखभाल करना चाहता है. प्रेमी के माफी मांगने के इस अंदाज के बाद मैरीलू उसके साथ रहने के लिए राजी हो गई.

हालांकि मैरीलू के दोस्तों और परिवार को पता था कि उसके रिश्ते में बहुत खटास आ गई है. ये रिश्ता अधिक समय नहीं चलेगा और ऐसा ही हुआ. आरोप था कि बीचर ने उसे फिर से धोखा देते हुए ड्रग के लिए पैसे चुरा लिए. जिसके बाद मैरीलू ने उसे ब्लॉक कर दिया.


मैरीलू समझ चुकी थी, उसकी जान के लिए खतरा है. इसलिए उसने खुद की सिक्योरिटी को देखते हुए 1 दिसंबर 2016 को अपने घर पर कैमरे लगवाए. कैमरे लगने के एक घंटे बाद मैरीलू की हत्या कर दी गई. उसकी मौत कैमरों में कैद हो गई.


जिसमें दिखाया गया कि बेचर घर के बाहर रात 11 बजे तक इंतजार करता है. उसने घर में घुसने का प्रयास किया, लेकिन सफल नहीं हो सका. वह लंबे समय तक मैरीलू के साथ रहा था, इसलिए उसकी दिनचर्या के बारे में उसे पता था. उसने रा​त 12.15 बजे घर में उस समय एंट्री की, जब रोज की तरह घर का दरवाजा कुत्ते की एंट्री के लिए खुलता है. 

उसने मैरीलू पर हिंसक हमला किया.  उसकी पसली में कई फ्रैक्चर हो गए और नाक टूट गई. जांचकर्ताओं को इस बात के भी सबूत मिले कि मैरीलू का गला भी घोंटा गया. जब पुलिस ने मैरीलू के नए कैमरों के फुटेज की समीक्षा की, तो उन्होंने देखा कि बीचर ने हत्या के बाद रसोई में सुरक्षा व्यवस्था के लिए लगे बक्से को देखा. वह नई गृह सुरक्षा प्रणाली का मजाक भी उड़ाते हुए सुना गया.


लगभग 30 मिनट बाद बेचर को कचरा बैग के साथ घर से बाहर जाते हुए देखा गया. इसके बाद पुलिस ने बेचर को गिरफ्तार कर लिया, जिसके बाद अदालत में ट्रायल शुरू हुआ, जिसके बाद कोर्ट ने उसे दोषी मानते हुए सजा सुनाई.


हालांकि मैरीलू के परिवार वाले बेचर को मिली इस सजा से खुश है, लेकिन निराश इसलिए थे कि बेचर के बारे में पुलिस से शिकायत की गई थी, इसके बाद भी मैरीलू की जान नहीं बच सकी. उन्होंने कहा कि दुख इस बात का है कि मैरीलू ने खुद को बचाने की पूरी कोशिश की थी, लेकिन  जो कैमरे उसे सुरक्षित रखने वाले थे, वे उसके दुखद अंतिम क्षणों को ही कैद कर सके. 

Share this story