ऑनलाइन पॉर्न की ऐसी लत की परिवार के डेढ़ करोड़ चुराए, फिर सबको मार डाला

मार डाला

अमेरिका में एक शख्स को ऑनलाइन पॉर्न की ऐसी लत लगी कि उसने अपने परिवार को ही खत्म कर डाला. फ्लोरिडा में रहने वाले ग्रांट एक ऑनलाइन कैम गर्ल को देखने के लिए रोज 1 लाख से भी अधिक की रकम उड़ा देता था और अपनी इसी एडिक्शन को पूरा करने के लिए उसने अपने परिवार को भी नहीं बख्शा.


फ्लोरिडा में रहने वाले ग्रांट नाम के इस युवक की अपने भाई कोडी के साथ काफी अच्छी बॉन्डिंग थी. वे दोनों साथ फ्लोरिडा के गेटर गेम्स भी जाते थे. ग्रांट और कोडी ने नर्स के कोर्स में दाखिला लिया था. हालांकि एक घटना ने इस परिवार को पूरी तरह से बिखेर दिया. दरअसल ग्रांट पर उसकी कंपनी ने आरोप लगाया था कि उसने कुछ दवाएं चुराई हैं. 


इसके बाद ग्रांट को सस्पेंड कर दिया गया था. हालांकि ग्रांट के भाई कोडी ने 8000 डॉलर्स का भुगतान करते हुए उसे छुड़ा लिया था. हालांकि ग्रांट बिना नौकरी के अब अपने कमरे में ही समय बिताने लगा था. वो गेम्स खेलता रहता और वीडियो गेम्स स्ट्रीम करने लगा था लेकिन उसकी पॉर्न की लत ने उसकी जिंदगी तबाह कर दी. 


ग्रांट बुल्गारिया की मॉडल सिल्वी से काफी आकर्षित हो गया था. वो हर रोज ग्रांट करीब चार घंटे कैम-गर्ल सिल्वी को देखता था और इसके चलते वो हर रोज काफी पैसा उड़ा रहा था. हालांकि जब उसके पैसे खत्म होने लगे तो वो अपने घरवालों से पैसे चुराने लगा था. अपने परिवार और अपने रिश्तेदारों से उसने अपनी सेक्स एडिक्शन के लिए 2 लाख डॉलर्स तक चुराए थे. 


हालांकि ग्रांट की इस लत से उसका परिवार परेशान हो चुका था और उसकी लत छुड़ाने के लिए उसे रिहैब सेंटर भेजा गया था. हालांकि ग्रांट को रिहैब से कुछ हफ्तों बाद ही छुट्टी मिल गई थी. हालांकि घर लौटने पर ग्रांट के सामने उसके परिवार वालों ने एक शर्त रख दी थी जिसे लेकर ग्रांट बिल्कुल तैयार नहीं था.


ग्रांट के परिवार ने उससे कहा कि वो जब तक सिल्वी को अनसब्सक्राइब नहीं करेगा तब तक वे उसे अपने घर में रहने की इजाजत नहीं दे सकते हैं. हालांकि ग्रांट सुधरने के लिए बिल्कुल तैयार नहीं था और उन्होंने अपने पेरेंट्स की इस डिमांड को साफ तौर पर मना कर दिया था और उसने फिर चोरी शुरु कर दी थी. 


ग्रांट के भाई ने उसका मूड बेहतर करने के लिए जापान की ट्रिप करने का फैसला किया था और कोडी अपने भाई की समस्या को लेकर बात करना चाहता था.  हालांकि इस ट्रिप पर ग्रांट ने अपने भाई के पैसों को ही साफ कर दिया था. इसके बाद ग्रांट को घर में घुसने की परमिशन नहीं मिली थी.

ग्रांट के पिता ने कहा था कि वो अपना सामान बांधकर कहीं और चला जाए. इस बात से ग्रांट को इतना गुस्सा आया कि उसने अपने भाई, पिता और मां को शूट कर दिया और बाहर निकल गया. हालांकि गोलियों की आवाज से पड़ोसियों ने पुलिस को फोन कर दिया और ग्रांट को सड़क से अरेस्ट कर लिया गया. उसे इस मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है.
 

Share this story