इस आदमी ने सुसाइड करने के लिए कटा अपना प्राइवेट पार्ट,डॉक्टरों ने जोड़कर बनाया रिकॉर्ड

dr

ब्रिटेन में मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति का एक बेहद जटिल केस सामने आया है. इस शख्स ने सुसाइड करने के लिए अपने ही प्राइवेट पार्ट पर हमला करते हुए उसे अलग कर दिया था. हालांकि इस व्यक्ति की गंभीर चोट के महज 6 हफ्तों बाद ही डॉक्टर्स ने इस शख्स के प्राइवेट पार्ट को पूरी तरह से ठीक कर दिया है. 

इस शख्स की इंजरी का केस ब्रिटिश मेडिकल जर्नल केस रिपोर्ट्स में छपा है.  34 साल के इस शख्स ने किचन के चाकू से अपने प्राइवेट पार्ट पर वार किया था. जब पुलिस इस शख्स के घर पहुंची तो वो बेहोश हो चुका था. उसके प्राइवेट पार्ट को बर्फ पर रखा गया और इस शख्स को एंबुलेंस में अस्पताल ले जाया गया.


गौरतलब है कि ये शख्स स्तिजोफ्रेनिया नाम की गंभीर मानसिक बीमारी से जूझ रहा है. इसके शरीर के कई हिस्सों पर जख्म के निशान देखे जा सकते थे. यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल बर्मिंगघम एनएचएस फाउंडेशन ट्रस्ट के अनुसार, सर्जरी को सफल बनाने के लिए प्राइवेट पार्ट को इंजरी के 15 घंटों के अंदर रिप्लांट करना जरूरी होता है. 


हालांकि जब इस शख्स को अस्पताल पहुंचाया गया और इसे ऑपरेशन थियेटर में ले जाकर सर्जरी की गई तो इस मरीज के प्राइवेट पार्ट को अलग हुए 23 घंटों से ज्यादा हो चुके थे. ऐसे में डॉक्टर्स के लिए ये सर्जरी काफी चुनौतीपूर्ण थी. बता दें कि इस शख्स को एक Catheter के सहारे यूरिनेट कराया जा रहा था. 


डॉक्टर्स ने इस व्यक्ति के जख्मी हुए प्राइवेट पार्ट को रिअटैच किया था और ब्लड फ्लो के लिए मरीज की बांह से नस का इस्तेमाल किया गया था.  सर्जरी के बाद इसे जनरल वॉर्ड में ले जाया गया था और उसे एंटीबॉयोटिक्स दी गई थीं. इस शख्स ने इसके बाद दो हफ्ते जनरल वॉर्ड में बिताए. 


इसके बाद उसे एक साइकियेट्रिक वॉर्ड में ट्रांसफर कर दिया गया था. इस सर्जरी के छह हफ्तों बाद ही मरीज के प्राइवेट पार्ट में सेंसेशन होने लगी थी और ये सामान्य होने लगा था. इस सर्जरी से जुड़े डॉक्टर्स का कहना है कि अंग-विच्छेद होने के कई घंटों बाद भी प्राइवेट पार्ट की सफल सर्जरी का ये पहला डॉक्यूमेंटेड केस है.
 

इस सर्जरी के बाद मरीज के प्राइवेट पार्ट को रोज एंटीसेप्टिक्स से क्लीन किया जाता था ताकि इंफेक्शन के खतरे को कम किया जा सके.  इस केस से जुड़े लोगों को अब उम्मीद है कि बाकी मेडिकल प्रोफेशनल्स भी प्राइवेट पार्ट के कई घंटों के अलग होने के बाद रिअटैचमेंट सर्जरी की कोशिश करेंगे. 


गौरतलब है कि इससे पहले भी ब्रिटेन में एक शख्स के प्राइवेट पार्ट से जुड़ा एक अनोखा मामला सामने आया था जिसके बाद डॉक्टर्स भी काफी हैरान हुए थे. दरअसल इस शख्स के प्राइवेट पार्ट में वर्टिकल तरीके से फ्रैक्चर होता था. इससे पहले आए सभी केसों में ये फ्रैक्चर हमेशा से ही हॉरिजॉन्टल तरीके से होता था. 

Share this story